No Picture
लेखनी/Lekhni

करवा चौथ की बधाई और शुभकामनाएँ।

18/10/2016 0

चंद्र-दर्शन हर रात हमारे बीच रहकर भी पहुंच से दूर…एक चमकीला शीतल चेहरा बहुत सारी नजाकत और अदा के साथ पलपल बढ़ता-घटता, लुभाता भरमाता…कभी उदास तो कभी खूशी से भरपूर, पूरा का पूरा चमकता-दमकता। चांद […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

दीपावली का सामाजिक और धार्मिक महत्त्व: गोवर्धन यादव

11/10/2016 0

भारत में मनाये जाने वाले सभी त्योहारों में दीपावली का सामाजिक और धार्मिक दोनों दृष्टियों से अप्रतिम महत्त्व है. सामाजिक महत्त्व इस दृष्टि से कि दीपावली आने से पूर्व लोग अपने घर-द्वार की स्वच्छता पर […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

मुख्यमंत्री द्वारा गुरमीत बेदी के कहानी संग्रह ‘सूखे पत्तों का राग ‘ का विमोचन

15/09/2016 0

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने शिमला में साहित्यकार गुरमीत बेदी के कहानी संग्रह ‘सूखे पत्तों का राग ‘ का विमोचन किया। इस कहानी संग्रह में लेखक के अलग – अलग अनुभवों से […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

शोक समाचारः बालसाहित्यकार प्रेम स्वरूप श्रीवास्तव का निधन

01/08/2016 0

वयोवृद्ध साहित्यकार प्रेम स्वरूप श्रीवास्तव का लम्बी बीमारी के बाद 31 जुलाई, 2016 को लखनऊ में निधन हो गया। वे 86 वर्ष की उम्र के थे और पिछले काफी समय से अस्वस्थ चल रहे थे। […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

दक्षिण भारत के हिंदी शोध की बानगी : ‘संकल्पना’

30/06/2016 0

हिंदी के क्षेत्रीय और भौगोलिक लक्ष्मण रेखाओं का अतिक्रमण करके सार्वदेशिक अखिल भारतीय भाषा बनने का एक सुखद परिणाम यह सामने आया है कि हिंदीतर भाषी कहे जाने वाले क्षेत्रों में स्थित उच्च शिक्षा संस्थानों […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

विनम्र श्रद्धांजलि

13/06/2016 0

लखनऊ। चर्चित साहित्यकार मुद्राराक्षस का सोमवार को ( 13 जून) लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 82 वर्ष के थे। सोमवार को दिन में उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई थी। उनके बेटे […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

अमरावती सृजन-पुरस्कार एवं सम्मान समारोह, सिलीगुड़ी -2015‏

11/03/2016 0

हिंदी के प्रख्यात लेखक, पत्रकार शैलेंद्र चौहान को ”अमरावती सृजन पुरस्कार’’-2015 तथा समाज सेवी रतिराम शर्मा एवं आर.के. गोयल को ”अमरावती-रघुवीर सामाजिक-सांस्कृतिक उन्नयन सम्मान’’ सिलीगुड़ी से प्रकाशित पूर्वोत्तर भारत की एकमात्र चर्चित हिंदी मासिक पत्रिका […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

‘अनुप्रयुक्त भाषाविज्ञान की व्यावहारिक परख’ का लोकार्पण संपन्न

25/02/2016 0

‘अनुप्रयुक्त भाषाविज्ञान की व्यावहारिक परख’ का लोकार्पण संपन्न हैदराबाद, 20 फरवरी 2016. (प्रेस विज्ञप्ति). ‘’अनुप्रयुक्त भाषाविज्ञान की चर्चा पश्चिम में 1920 ई. के आसपास तब शुरू हुई जब एक देश के सैनिकों को शत्रु देश […]