No Picture
लेखनी/Lekhni

आज सिराहनेः हाय री कुमुदनीः काव्य संग्रहः कवि सुनील कुमार चौरसिया

12/23/2020 0

जीवन के असली मंत्र को उद्घाटित करती ‘हाय री! कुमुदिनी’ क्यों मानें कि सपना कोई साकार नहीं होता, हम गुजरे कल की आंखों का सपना ही तो हैं।। सुनील चौरसिया ‘सावन’ संभवत: स्नातक द्वितीय वर्ष […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

सरोकारः शिबेन कृष्ण रैना

12/13/2020 0

प्रजावत्सल होने के साथ-साथ विद्याव्यसनी होना भी राजा के लिए परमावश्यक है। दरअसल, गद्दी पर बैठते ही आजका राजा इस उधेड़बुन में लग जाता है कि कहीं उसके नीचे से कोई उसकी जाजम खिसका न […]

No Picture
लेखनी/Lekhni

गुरु नानक जी की सीख हमेशा प्रासंगिक रहेंगी

12/01/2020 0

एक ओंकार सतनाम, कर्तापुरख, निर्माह निर्वैर, अकाल मूरत, अजूनी सभं. गुरु परसाद ॥ ॥ जप ॥ आद सच, जुगाद सच, है भी सच, नानक होसे भी सच ॥ ये गुरुनानक देव जी के मुख से […]

error: Content is protected !!