लेखनी/Lekhni-नवंबर-दिसंबर 18

सोच और संस्कारों की सांझी धरोहर
Bridging The Gap

( वर्ष 12 -अंक 118)

मन टीवी, तन डिस्को, संबंध शेयर बाजार हुए,
खुली व्यवस्था,खुली अवस्था, ग्लोबल सब व्यवहार हुए।

-संजीव निगम

इस अंक मेंः अपनी बातः हमारी बदलती दुनिया।
कविता धरोहरः गजानन माधव मुक्तिबोध। श्रद्धांजलिः सुरेश सेन निशांत। कविता आज और अभीः, पद्मा मिश्रा, बीनू भटनागर, मनीष श्रीवास्तव, पंखुरी सिन्हा, उषा गुप्त। माह विशेषःःबीनू भटनागर, शैल अग्रवाल, संजीव निगम, शबनम शर्मा। माह के कविः मदन सोनी। गीत और ग़ज़लः श्यामल सुमन। दीपावली विशेषः दीपमाला कविता संकलन। परिचर्चाः अंतर्मन के स्तंभ। मंथनः साहित्यकार और सामाजिक प्रतिबद्धता-अज्ञेय। कहानी समकालीनः मेरी माँ कहाँ- कृष्णा सोबती। कहानी समकालीनः घर का ठूँठ-शैल अग्रवाल। कहानी समकालीनः गली दुल्हन वाली-मीरा कान्त। कहानी समकालीनः जुलूस-इन्द्रा बासवानी-सिंधी से अनुवाद-देवी नागरानी। दो लघुकथाएँः पहुँच-शैल अग्रवाल। हास्य-व्यंग्यः मेरी आदर्श जीवन शैली-हरि जोशी। चांद परियाँ और तितलीः दिवाली से जुड़े कुछ तथ्य-तरुण अग्रवाल।

In the English Section: My Column-Our Changing World. Unforgettable War Poems by Philip Larkin, Clifford Dyment, John McCrae ,Isaac Rosenberg & Marjorie Pickthall. Favourites Forever: Kunwar Narayan. Poetry Here & Now: S. Sushant. Kids’Corner-Story: Promise by Shail Agrawal.

ब्रिटेन से प्रकाशित द्विमासीय, द्विभाषीय ( हिन्दी-अंग्रेजी ) पत्रिका
परिकल्पना, संपादन व संचालनः शैल अग्रवाल
संपर्क सूत्रः shailagrawal@hotmail.com

सर्वाधिकार सुरक्षित ( copyright @ www.lekhni.net)